शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है

, , Leave a comment

शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है के बारे में जानकारी देने वाले हैं | हम देखते हैं कि जिन पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम होती है उन पुरूषों को बच्चा पैदा करते नहीं आता है | दोस्तों अगर आपके भी वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम है तो जल्द से जल्द आपने इस समस्या को हल करना जरूरी है |

शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है
शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है

शुक्राणुओं की संख्या वीर्य में कम होने के कारण आप अपनी पत्नी को मां नहीं बना सकते हो और खुद को बाप नहीं बना सकते हो | इसलिए शुक्राणुओं की संख्या ज्यादा होना जरूरी होता है, पुरुषों के एक मिलीमीटर शुक्राणु में लगभग २० मिलियन शुक्राणु होना जरूरी होता है | इसलिए आज हम आपको शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है के बारे में जानकारी देने वाले है |

शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है -:

  1. जिन पुरुषों के शरीर में हार्मोन असंतुलन रहते हैं | उन पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या बहुत कम होती है, पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन यह हॉर्मोन सबसे मुख्य हॉर्मोन होता है | शरीर में टेस्टोस्टेरोन कम होने के कारण शुक्राणुओं की संख्या नहीं बढ़ पाती है | इसलिए पुरुषों ने हार्मोन की संख्या संतुलित रखना जरूरी है |

  2. अगर आपको आपके पार्टनर के साथ सेक्स करना अच्छा नहीं लगता है मतलब काम इच्छा करने का मन नहीं होता है तो जल्द से जल्द आपने इस समस्या का उपचार लेना चाहिए | क्योंकि जिन पुरुषों को सेक्स करने की इच्छा नहीं होती है उन पुरूषों को नपुसंकता आ सकती है | नपुसंकता आने से वीर्य और शुक्राणु बनना बंद हो जाता है |

  3. अगर आपके लिंग में दर्द होता है या लिंग में सूजन आती है तो इस समस्या के कारण भी लिंग में शुक्राणु नहीं बढ़ पाते हैं | इसलिए गुप्तांगों को हमेशा सुरक्षित रखने का प्रयास करें, जिन पुरुषो के गुप्तांग पर चोट पर खरोज होती है उन पुरुषों के वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या कम होती है |

  4. अगर आपके लिंग में संक्रमण हुआ है तो शुक्राणुओं का उत्पादन होना बंद हो जाता है | इसलिए लिंग में कभी भी संक्रमण ना होने दें, लिंग में संक्रमण होने पर जल्द से जल्द डॉक्टर से ट्रीटमेंट लेना शुरू कर दें | शुक्राणुओं की संख्या कम होने के कारण बहुत सारे हैं जिसमें शुक्राणु नलिका में दोष भी हो सकता है |

  5. अगर आपको रोजाना नशीली चीजों का सेवन करने की आदत है तो इस से भी शुक्राणुओं की संख्या कम हो सकती है | जिन लोगों को हमेशा तनाव में रहने की आदत होती है, उन लोगों के वीर्य में शुक्राणु उत्पादित नहीं होते हैं इसलिए तनाव में ना रहे |

यह थी शुक्राणुओं की संख्या कैसे कम होती है के बारे में जानकारी |

 
loading...
loading...
 

Leave a Reply